लड़की को रात रखने के चक्कर में दोस्तों ने अपने ही दोस्त को बुरी तरह से पीटा और कुछ दिनों बाद लड़के की हुई मौत…….

जालंधर // मनीष भट्टी

जालंधर बस्ती अड्डा के नजदीक मच्छी मार्केट में स्थित एक निजी फाइनेंस कंपनी के ऑफिस में 6 अक्टूबर शाम को लड़की के पीछे हुए झगड़े के दौरान आपस में बैठे दोस्तों ने अपने ही एक दोस्त को बुरी तरह से पीटा  इलाज के दौरान 18 अक्टूबर को लड़के की मृत्यु हो गई |

प्राप्त जानकारी के अनुसार लड़के की पहचान मनप्रीत सिंह उर्फ जग्गा (20) पुत्र बलविंदर सिंह वासी जनता कॉलोनी जोकि इंडो फाइनेंस नामक ऑफिस में चाय-पानी पिलाने का काम करता था । पिता बलविंदर सिंह ने कहा कि शादी के 12 साल बाद उनका बेटा मनप्रीत हुआ था ।  अपने ममेरे भाई यादविंदर के साथ अपने 3 दोस्तों को लेकर पार्टी करने के लिए मच्छी मार्केट में स्थित फाइनेंस कंपनी के ऑफिस में बैठे हुए थे इसी दौरान आपस में बात कर प्रॉस्टिट्यूशन लड़की को रात के समय लेकर आए जिस दौरान मनप्रीत के दोस्त करण ,मनी, गोपी, ने लड़की को ऑफिस में रात रखने के लिए कहा जिससे मनप्रीत सहमत नहीं था जिस दौरान आपस में सभी दोस्त भीड़ गए लड़की तो कुछ समय बाद वापिस चली गई मनप्रीत और उसका भाई यादविंदर ऑफिस को लॉक कर घर की तरफ चले गए जब वह डीएवी कॉलेज के फ्लाईओवर को पार करते समय पीछे से करण ,गोपी, मनी, अपने और दोस्तों के साथ मनप्रीत के मोटरसाइकिल को पीछे से लात मार कर गिरा देता है मनप्रीत के घरवालों के कहने के मुताबिक लोहे की रॉड पंच और आदि चीजों से मनप्रीत को बुरी तरह से घायल कर देते हैं वही उसके भाई के सर पर पंच लगने से वह भी बेहोश हो गया वहीं लोगों ने घायल देख मनप्रीत और यादविंदर को मकसूदा निजी हॉस्पिटल में एंबुलेंस की मदद से एडमिट करवा दिया गया उसके बाद यादविंदर को मामूली चोटें लगी जिसे हॉस्पिटल से छुट्टी दे दी गई और मनप्रीत जोकि बुरी तरह से घायल था कुछ ही दिनों में  इलाज के दौरान आईसीयू में ही दम तोड़ गया|

 

इस दौरान मनप्रीत के घरवाले और रिश्तेदार इंसाफ की गुहार लगाने के लिए कमिश्नर साहब के पास पहुंचे और उनको एएसआई कुलविंदर सिंह के द्वारा कार्यवाही ना करने के लिए एक दरखास्त दी गई जिसमें एएसआई कुलविंदर पर आरोप लगाया है कि वह दोषियों के साथ मिले हैं और उनके बयान जो लिखे गए हैं वह भी गलत लिखे हुए हैं लड़ाई की रिपोर्ट बनाने की वजह एएसआई द्वारा एक्सीडेंट का केस बनाकर पेश कर रहे हैं जिसके कारण घर वालों ने मनप्रीत का पोस्टमार्टम करने से किया इंकार घरवालों का कहना है कि जब तक लड़कों को पकड़ नहीं लेते तब तक हम मनप्रीत का पोस्टमार्टम नहीं होने देंगे शनिवार की सुबह थाना एक में एसीपी जसविंदर खैरा द्वारा मनप्रीत के घरवालों के बयान दुबारा लिखवाए गए |
वही एसीपी जसविंदर सिंह खैरा ने मनप्रीत के घर वालों को आश्वासन दिया कि पूरे मामले की जांच गंभीरता से की जाएगी और दोषियों पर सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी |

Leave a Reply