RIL to raise Rs 53,215 crore through rights issue, biggest plan to raise funds in Indian capital market | आरआईएल राइट्स इश्यू के जरिये 53,215 करोड़ रुपए जुटाएगी, भारतीय पूंजी बाजार में फंड जुटाने की सबसे बड़ी योजना


  • राइट्स इश्यू में हर शेयरधारक को उसके पास आरआईएल के मौजूद हर 15 शेयर के एवज में एक शेयर के लिए सब्सक्राइब करने का अधिकार होगा
  • इश्यू का प्राइस प्रति शेयर 1,257 रुपए तय किया गया है, जो गुरुवार को बंद शेयर भाव के मुकाबले 14 फीसदी से कुछ ज्यादा का डिस्काउंट दर्शाता है

दैनिक भास्कर

Apr 30, 2020, 10:07 PM IST

नई दिल्ली. मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) ने गुरुवार को कहा कि वह राइट्स इश्ये के जरिये 53,215 करोड़ रुपए जुटाएगी। यह भारतीय पूंजी बाजार में फंड जुटाने का सबसे बड़ा कार्यक्रम होगा। प्रस्तावित योजना के तहत हर एक शेयरधारक को उसके पास आरआईएल के मौजूद हर 15 शेयर के एवज में एक शेयर के लिए सब्सक्राइब करने का अधिकार होगा। राइट्स इश्यू का प्राइस प्रति शेयर 1,257 रुपए तय किया गया है। यह गुरुवार को बंद शेयर भाव के मुकाबले 14 फीसदी से कुछ ज्यादा का डिस्काउंट दर्शाता है। गुरुवार को बीएसई पर कंपनी के शेयर 2.86 फीसदी तेजी के साथ 1,467.05 रुपए पर बंद हुए।

मुकेश अंबानी 26,600 करोड़ रुपए लगा सकेंगे
लाइव मिंट की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस राइट्स इश्यू में मुकेश अंबानी 26,600 रुपए का निवेश कर सकेंगे। उनके पास कंपनी की 50 फीसदी हिस्सेदारी है। कंपनी के प्रमोटर और प्रमोटर समूह ने कहा है कि उनके पास जितने का अधिकार होगा, वे उन सभी शेयरों के लिए आवेदन करेंगे। इसके अलावा जितने शेयरों के लिए आवेदन नहीं मिलेंगे, उन सभी शेयरों के लिए भी वे सब्सक्राइब करेंगे।

तीन दशक में रिलायंस इंडस्ट्रीज का पहला राइट्स इश्यू
कंपनी ने एक बयान में कहा कि प्रस्तावित राइट्स इश्यू पिछले तीन दशकों में आरआईएल का पहला राइट इश्यू होगा। कई कारोबारों से होने वाली आय और कंजर्वेटिव बैलेंस शीट के कारण मौजूदा आर्थिक चुनौतियों को मुकाबला करने में रिलायंस इंडस्ट्रीज सक्षम है। एसएंडपी और मूडीज दोनों रेटिंग एजेंसियों ने रिलायंस के इनवेस्टमेंट ग्रेड को बरकरार रखा है। उपभोक्ता कारोबार में परिवर्तनकारी रणनीतिक निवेश ने रिलायंस को भारत की प्रमुख उपभोक्ता/टेक्नोलॉजी कंपनी के रूप में स्थापित कर दिया है।



Source link

Leave a Reply