17 अक्टूबर 2020 की सबसे खास तस्वीरें


लिथुएनिया के विलनिउस में यूक्रेन के डिजाइनर दस्तीश फंतेस्टिश के बनाए Fashion Infection को रैंप पर पेश करते हुए। दुनियाभर में 3 करोड़ 96 लाख 71 हजार 764 लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं और 11 लाख 10 हजार 405 लोगों की मौत हो चुकी है। इस घातक वायरस से बचने के लिए दुनियाभर में 150 से ज्यादा वैक्सीनों पर काम चल रहा है और कई कैंडिडेट आखिरी चरण के ट्रायल में हैं। हालांकि, एक्सपर्ट्स का कहना है कि वायरस के खिलाफ सामाजिक दूरी के साथ-साथ मास्क पहनने की आदत सबसे बड़ा हथियार साबित हो सकती है। (फोटो: PETRAS MALUKAS / AFP)

ऐतिहासिक जीत की खुशी

कोरोना वायरस के खिलाफ देश को जंग जिताने वाली न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जसिंडा आर्डर्न (Jacinda Ardern) ने भारी बहुमत के साथ चुनाव में भी जीत दर्ज की है। यह चुनाव पहले 19 सितंबर को होने वाला था, लेकिन कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था। देश के इतिहास में इतनी विशाल जीत किसी पार्टी को पहली बार इतनी विशाल जीत मिली है और इसी के साथ जसिंडा एक बार फिर देश की कमान संभालने के लिए तैयार हैं। (फोटो: David Rowland via REUTERS)

गम में पेरिस

फ्रांस की राजधानी पेरिस में आतंकी हमले में मारे गए स्कूल टीचर को याद करने लोग उतरे हैं। 47 साल के टीचर को एक शख्स ने इसलिए मार दिया था क्योंकि उन्होंने क्लास में बच्चों को पैगंबर मोहम्मद का कार्टून दिखाया था। इस हमले के बाद आरोपी ने सरेंडर करने से इनकार किया और पुलिस पर ही बंदूक तान दी। इसके बाद वह पुलिस की गोली का शिकार हो गया। REUTERS/Charles Platiau

जंग में हारीं जिंदगियां

अजरबैजान और आर्मीनिया के बीच जारी जंग खत्म होना तो दूर और घातक होती जा रही है। अजरबैजान ने आर्मीनिया पर गांजा शहर में मिसाइल हमले का आरोप लगाया है और दावा किया है कि इसमें 12 लोगों की मौत हो गई। इसके बाद देश के राष्ट्रपति इलहम अलियेव ने आर्मीनिया से इसका बदला लेने की प्रतिज्ञा की है। वहीं आर्मीनिया ने आरोप लगाया था कि अजरबैजान सीरियाई आतंकियों की मदद से उसके सैनिकों के सिर काट रहा है। (Aziz Karimov/ AP)

जारी है संघर्ष

थाइलैंड में शाही और सैन्य शासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी है। हजारों की संख्या में लोकतंत्र समर्थक कार्यकर्ता बैंगकॉक में जगह-जगह इकट्ठा हुए। प्रशासन की लगाई इमर्जेंसी का उल्लंघन करते हुए लोगों ने लगातार तीसरे दिन पुलिस से लोहा लिया। इससे पहले शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने वॉटर कैनन चला दी थी। Jack Taylor/ AFP



Source link

Leave a Reply